6 महीने का ब्याज कैसे निकालें?I 6 Month Ka Byaj Kaise Nikale.

दोस्तों आज के आर्टिकल में मैं आपको बताने वाला हूं, 6 Month Ka Byaj Kaise Nikale. आज के दौड़ में ब्याज हर व्यक्ति के जीवन का एक हिस्सा बन गया है। लोग अपनी जरूरत का सामान ब्याज पर खरीदते हैं, और हर महीने ईएमआई के रूप में धीरे-धीरे वस्तु मूल्य का भुगतान करते हैं।

आज बैंक द्वारा तथा एप्लीकेशन द्वारा कई प्रकार के लोन उपलब्ध है, जैसे – स्टूडेंट लोन, होम लोन, मोबाइल लोन, लैपटॉप लोन, बाइक लोन, होम रिनोवेशन लोन, यात्रा लोन आदि। किसी प्रकार का लोन लेने के बाद उस पर लगने वाला वार्षिक ब्याज दर के हिसाब से हर महीने emi भरना पड़ता है।

आज के आर्टिकल में सुझाई गये तरीके से आप किसी भी लोन का ब्याज निकाल सकते हैं। कि उस पर किस प्रकार से ब्याज लग रहा है। इसी फार्मूला का प्रयोग करके 6 महीने का ब्याज निकाल सकते हैं।

पैन कार्ड से सिविल स्कोर कैसे चेक करें
अपना बैंक खाता बंद कैसे करें
मुथूट एटीएम फ्रेंचाइजी कैसे लें
श्रीराम फाइनेंस लोन कैसे चेक करें

ब्याज क्या होता हैं?

ब्याज निकालने से पहले हमें यहां जान लेना चाहिए कि आखिर ब्याज होता क्या है। ब्याज की परिभाषा बड़ी सिंपल है-जब हम किसी संस्था या व्यक्ति से कर्ज लेते हैं तो उसे मूलधन कहते हैं। मूलधन वापस करते समय उसके साथ जो एक्स्ट्रा रकम दिया जाता है, उसे ब्याज कहते हैं।

जब हम किसी से पैसे उधार मांगते हैं तो ज्यादातर उधार पैसे देने से हर कोई मना कर देता है। ऐसे में हमें मजबूरन किसी ऐसी संस्था अथवा व्यक्ति से कर्ज लेना पड़ता है, जो हमें दिए गए कर्ज के बदले कुछ अतिरिक्त धनराशि की मांग करता है। ब्याज अधिकतर वार्षिक दर के हिसाब से होता है। लेकिन जब हम किसी व्यक्ति से कर्ज लेते हैं, तो वह हमारी मजबूरी का फायदा उठाते हुए ब्याज मासिक दर के हिसाब से लेता है।

उदाहरण : यदि हम किसी बैंक से ₹50000 का लोन लेते हैं, तो 50 हजार रुपया मूलधन कहलाएगा। यदि बैंक द्वारा मूलधन पर 10% वार्षिक ब्याज दर लिया जाता है। यानि 1 साल बाद हमें मूलधन के साथ मूलधन का 10% धनराशि जोड़कर बैंक को वापस करना पड़ेगा। बैंक द्वारा अलग-अलग लोन राशि पर अलग-अलग वार्षिक ब्याज दर निर्धारित किया गया है। लेकिन जब हम किसी व्यक्ति से कर्ज लेते हैं, तो वह अपनी इच्छा अनुसार मूलधन पर वार्षिक या मासिक ब्याज दर वसूल सकता है।

ब्याज निकालने का फार्मूला

यहां पर आपको समझना चाहिए कि किसी भी बैंक, संस्था या व्यक्ति द्वारा किसी प्रकार का लोन लिए जाने पर ब्याज निकालने का फार्मूला एक होता है। जो इस प्रकार है-

I = Prt/100, आई = पी × आर × टी/100

  • I = यहां पर अंग्रेजी का आई (I) अक्षर ब्याज की राशि को दर्शाता है।
  • P = यहां पर अंग्रेजी का पी (P) अक्षर मूलधन को दर्शाता है।
  • r : यहां पर अंग्रेजी का आर (r) अक्षर ब्याज प्रतिशत को दर्शाता है।
  • t : यहां पर अंग्रेजी का टी (t) अक्षर समय को दर्शाता है, यानी कितने समय के लिए कर्ज दिया गया है।

6 महीने का ब्याज कैसे निकालें?

दोस्तों ऊपर बताए गए फार्मूले की मदद से आप 6 महीने, 1 साल, 2 साल कितने भी समय का ब्याज निकाल सकते हैं। लेकिन यहां पर मैं आपको उदाहरण की मदद से 6 महीने का ब्याज दर निकालने की प्रक्रिया बताऊंगा।

उदाहरण 1

रमेश मोबाइल एप्लीकेशन की मदद से मोबाइल खरीदने के लिए ₹20000 की धनराशि 6 महीने के लिए 20% वार्षिक ब्याज दर के हिसाब से लोन लेता है। तो उसे 6 महीने बाद कितना ब्याज देना होगा।

  • मूलधन राशि (P) = 20000 रूपया
  • वार्षिक ब्याज दर (r) = 20%
  • कितने समय के लिए (t) = 6 महीने

इस प्रश्न में हमें मूलधन, वार्षिक ब्याज दर, समय बताया गया है। ब्याज राशि के लिए निम्न फार्मुला का उपयोग कर सकते हैं- I = Prt/100

ब्याज धनराशि = (20000×20×1/2) / 100
ब्याज धनराशि = 20000×20×1/2×100
ब्याज धनराशि = 400000/200
ब्याज धनराशि = 2000 रुपया

यानि रमेश को 6 महीने बाद मूलधन के साथ ब्याज के रूप में ₹2000 और देना पड़ेगा। इस प्रकार कुछ 22000 रुपया देना पड़ेगा।

उदाहरण 2

दीपक किसी जरूरी काम के लिए अपने दोस्त से ₹10000 की धनराशि 10% मासिक ब्याज दर के हिसाब से 6 महीने के लिए उधार लेता है। तो दीपक को कुल कितनी धनराशि वापस लौटाना पड़ेगा।

  • मूलधन राशि (P) = 10000 रूपया
  • वार्षिक ब्याज दर (r) = 10%
  • कितने समय के लिए (t) = 6 महीने

इस प्रश्न में हमें मूलधन, वार्षिक ब्याज दर, समय बताया गया है। ब्याज राशि के लिए निम्न फार्मुला का उपयोग कर सकते हैं- I = Prt/100

ब्याज धनराशि = (10000×10×6) / 100
ब्याज धनराशि = 100000×6/100
ब्याज धनराशि = 6000 रुपया

यानि दीपक को 6 महीने बाद मूलधन के साथ ब्याज के रूप में ₹6000 और देना पड़ेगा। इस प्रकार कुछ 16000 रुपया देना पड़ेगा।

उदाहरण 3

अमित मोटर साइकिल खरीदने के लिए बैंक से 50000 रुपए की धनराशि 20% वार्षिक ब्याज दर के हिसाब से 6 महीने के लिए लोन लेता है। तो 6 महीने का ब्याज कितना होगा।

  • मूलधन राशि (P) = 50000 रूपया
  • वार्षिक ब्याज दर (r) = 20%
  • कितने समय के लिए (t) = 6 महीने

इस प्रश्न में हमें मूलधन, वार्षिक ब्याज दर, समय बताया गया है। ब्याज राशि के लिए निम्न फार्मुला का उपयोग कर सकते हैं- I = Prt/100

ब्याज धनराशि = (50000×20×1/2) / 100
ब्याज धनराशि = 1000000×1/200
ब्याज धनराशि = 5000 रुपया

यानि अमित को 6 महीने बाद मूलधन के साथ ब्याज के रूप में ₹5000 और देना पड़ेगा। इस प्रकार कुछ 55000 रुपया देना पड़ेगा।

6 Month Ka Byaj संबंधित प्रश्नोंत्तर

1. महीने का ब्याज कैसे निकालें सूत्र?

ऊपर बताएं गये आर्टिकल के हिसाब से ब्याज निकाल सकते हैं। अगर ब्याज दर वार्षिक ब्याज दर है, तो उसमें 12 से भाग दे देना है, जो आयेगा वही महीने का ब्याज हैं।

2. कैलकुलेटर से ब्याज कैसे निकलता है?

कुल ब्याज राशि = [P×r(1+r)n]/[(1+r)n-1] यहां पर P = मूलधन या लोन राशि को दर्शाता है। r = वार्षिक ब्याज दर को दर्शाता है। n = लोन अवधि को दर्शाता है।

3. 10000 का 3 परसेंट का ब्याज कितना होता हैं?

एक साल के लिए कुल ब्याज 300 रुपया होगा। ब्याज निकालने का फार्मूला आर्टिकल में बताया गया है।

4. 5000 हजार रुपये का 2 रुपये प्रति सैकड़ा से ब्याज कितना होगा 1 महीने का?

यहां पर मूलधन =5000 रुपए, ब्याज दर = 2%, समय = 1 महीना बताया गया है। इसलिए इसे I=Prt/100 फार्मूला में लगाते हैं। तत्पश्चात 1 महीने का ब्याज 100 रुपया आयेगा।

5. 1 दिन का ब्याज कैसे निकालें?

वार्षिक ब्याज दर निकालने के बाद उसमें 356 से भाग दे देना है, तत्पश्चात जो उत्तर आयेगा वह 1 दिन का ब्याज होगा।

निष्कर्ष

दोस्तों इस आर्टिकल में हमने 6 Month Ka Byaj Kaise Nikale. की प्रक्रिया बताई हुई है। किसी बैंक, संस्था या व्यक्ति द्वारा लोन लिए जाने पर ब्याज निकालने का फार्मूला एक ही लगता है। जैसे : कैलकुलेटर से ब्याज कैसे निकाले, 1 दिन का ब्याज कैसे निकाले, मोबाइल से ब्याज कैसे निकाले, बैंक का ब्याज कैसे निकाले, Loan का ब्याज कैसे निकाले आदि।

इस आर्टिकल में तीन उदाहरण के माध्यम से लोन निकालने की प्रक्रिया बताई गई है। अगर आपको ब्याज निकालने में किसी प्रकार की परेशानी आ रही है, तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं।

आधार कार्ड से अकाउंट नंबर कैसे पता करें
मोबाइल की किस्त (EMI) कैसे चेक करें
बजाज फाइनेंस सिबिल स्कोर चेक कैसे करें
पेटीएम अकाउंट नंबर कैसे पता करें

Leave a Comment