लीन अमाउंट क्या होता हैं?I Lien Amount Check कैसे करें?और कैसे हटाएं

दोस्तों कई बार ऐसा होता है कि हम अपने बैंक खाते में उपलब्ध राशि नहीं निकाल पाते हैं, क्योंकि हमारे बैंक अकाउंट में लीन अमाउंट लगा दिया जाता है। लेकिन अक्सर हम यह नहीं समझ पाते हैं कि लीन अमाउंट क्या होता हैं और इसे बैंक द्वारा क्यों लगाया गया है? लेकिन आज के इस लेख को पढ़ने के बाद आपको लिन अमाउंट से संबंधित सभी जानकारियां मिल जाएंगी। कि Lien Amount Kya Hota Hai. और लगने के क्या कारण है?

इसके अलावा इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि किसी भी बैंक द्वारा आपके खाते पर लीन अमाउंट कब लगाया जाता है| बैंक खाते से Lien Amount Hatane के लिए आपको क्या करना होगा| लीन अमाउंट को हिंदी भाषा में ग्रहणाधिकार राशि कहा जाता हैं|

योनो एसबीआई यूजरनेम और पासवर्ड कैसे बनाएंRBL क्रेडिट कार्ड बंद कैसे करें 
एसबीआई यूजरनेम पासवर्ड कैसे बनाएंHDFC क्रेडिट कार्ड बंद कैसे करे

लीन अमाउंट क्या होता हैं?

लीन अमाउंट को हिंदी में ग्रहणाअधिकार राशि कहते हैं। लीन अमाउंट बैंक द्वारा आपके Bank Account के अमाउंट पर लगाया गया एक टैग है। इसका अर्थ यह होता है कि आपके बैंक अकाउंट में रखे गए पैसे को लॉक कर दिया गया है। लीन अमाउंट को Hold Amount या लीन बैलेंस भी कहते हैं।

जब आपके बैंक अकाउंट से हर महीने किसी वस्तु की EMI पेमेंट कट रही है परंतु किसी महीने वह अमाउंट आपके अकाउंट से नहीं कट पाता है तो बैंक आपके खाते में लीन अमाउंट लगा देती है।

लिन अमाउंट लग जाने के बाद यदि आपके खाते में कोई भी Paisa Deposit होता है, तो बैंक EMI के बराबर कटने वाले पैसे को Hold कर देती है| जिसके कारण आप अपने बैंक अकाउंट से उन पैसों का ट्रांजैक्शन नहीं कर सकते हैं। 

लीन अमाउंट को हम एक प्रकार का ताला कह सकते हैं, जो बैंक द्वारा हमारे खाते में लगा दिया जाता है। सरल शब्दो में हम कह सकते है की लीन अमाउंट वह राशि होती है, जिसे बैंक द्वारा ग्रहण कर लिया जाता है। 

बैंक द्वारा लीन अमाउंट क्यों लगाया जाता हैं?

लीन अमाउंट लगने के कई कारण हो सकते हैं। हम यहां पर आपको कुछ मुख्य कारण बता रहे हैं, जिसकी वजह से आपके बैंक अकाउंट में लीन अमाउंट लगाया जाता है। 

  • भारतीय स्टेट बैंक के अनुसार एक व्यक्ति के बैंक खाते में कुछ न्यूनतम राशि होना आवश्यक है। यदि ग्राहक अपने खाते में पर्याप्त राशि नहीं रख पाते हैं तो उसके लिए बैंक जुर्माना वसूल करती है। लेकिन अगर आपके खाते में किसी चीज का भुगतान करने के लिए पर्याप्त राशि नहीं है, तो बैंक आपके खाते को Lock कर देती है, यानी लिन अमाउंट लगा देती है।
  • कई बार Fixed Deposit का अमाउंट में भी लिन अमाउंट दिखता है जिसका अर्थ यह है कि यदि किसी ग्राहक ने लोन लेते समय सिक्योरिटी के रूप में अपने Fixed Deposit को रखा है, तो बैंक उस Fixed Deposit की राशि को आपको वापस नहीं करेगी, जब तक आप बैंक का लोन नहीं चुका देते। क्योंकि बैंक इस राशि को लिन अमाउंट के रूप में देखता है। 
  • यदि किसी परिस्थिति में कोई ग्राहक अपने Loan या EMI का भुगतान करने में करने में असमर्थ रहता है, तो भी बैंक द्वारा उस ग्राहक के खाते पर लिन अमाउंट लगा दिया जाता है।
  • यदि बैंक आपके खाते से किसी तरह की गलत ट्रांजैक्शन को देखती है, तो भी बैंक उस ग्राहक के खाते में लीन अमाउंट लगा देती है।
  • यदि ग्राहक अपने उचित समय पर टैक्स का भुगतान नहीं कर पाता है, तो भी बैंक द्वारा उसके खाते में लिन अमाउंट लगा दिया जाता है। 
  • यदि आपके साथ ऊपर दी गई कोई भी समस्या उत्पन्न नहीं हो रही है और फिर भी आपके अकाउंट में लिन अमाउंट दिखाई दे रहा है, तो यह Technical Issue के कारण भी हो सकता है। तो इसके लिए आपको अपने Bank Branch में जाने की जरूरत है। 

बैंक लीन अमाउंट क्यों रखती है?

सबसे पहले हम आपको यह बता दें कि बैंक द्वारा आपके खाते के पूरे पैसों को लिन अमाउंट में नहीं रखा जाता है। क्योंकि बैंक केवल उतनी ही राशि पर लोन अमाउंट लगाती है, जितने का आपको EMI का या लोन का भुगतान करना है। 

और बैंक इसलिए अमाउंट को इसलिए रखती है ताकि भविष्य में ऐसा दोबारा ना हो और आपके EMI का भुगतान समय से संभव हो पाए। 

उदाहरण के लिए : यदि आपका कोई EMI पेमेंट ₹6000 है जिसका भुगतान हर महीने की 1 तारीख को किया जाता है। लेकिन इस महीने किसी कारणवश आपके बैंक अकाउंट में केवल ₹4000 थे और आपकी EMI का भुगतान नहीं हो सका, तो अब बैंक आपके खाते में लिन अमाउंट लगा देगी।

अब यदि आप अपने खाते में कुछ समय बाद ₹5000 जमा करते हैं तो बैंक पहले से ही उस EMI पेमेंट की राशि पर लिन अमाउंट लगा देगी। यानी कि 5000 जमा करने के बाद आपके खाते में ₹9000 हो जाएंगे तो आप पूरे ₹9000 को नहीं निकाल सकते। 

क्योंकि आपके ₹6000 पर लिन अमाउंट लगा होगा। आप केवल ₹3000 ही अपने अकाउंट से निकाल सकते हैं या ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। 

लीन अमाउंट कैसे चेक करें?

लीन अमाउंट चेक करने के दो तरीके हैं। ऑनलाइन और ऑफलाइन माध्यमों से आप आसानी से अपने बैंक के लिए Lien Amount को चेक कर सकते हैं|

यदि आप Online Lien Amount Check करना चाहते हैं, तो आपको Internet Banking या Mobile Banking का इस्तेमाल करना होगा। तो सबसे पहले आप अपने बैंक के अधिकारिक वेबसाइट पर चले जाएं और इंटरनेट बैंकिंग को लॉगिन कर ले। अब Account information के अंतर्गत आपको आपकी लीन अमाउंट से संबंधित सभी जानकारियां मिल जाएंगे।

ऑफलाइन Lien amount चेक करने के लिए आपको सबसे पहले अपने बैंक ब्रांच में जाना होगा और वहां पर अपने Passbook को Update करवाना होगा। अब आप पासबुक में लिन अमाउंट की राशि चेक कर सकते हैं। 

लिन अमाउंट कैसे निकाले?

ग्रहणाधिकार राशि निकालने का तरीका : आप अपने बैंक अकाउंट से Lien amount को नहीं निकाल सकते हैं। यदि आप बैंक अकाउंट से लीन अमाउंट को निकालना चाहते हैं, तो आपको सबसे पहले अपने बैंक को लीन अमाउंट निकालने के लिए रिक्वेस्ट करना होगा। यदि बैंक द्वारा आपकी रिक्वेस्ट जायज मानी जाती है, तो बैंक आपको लीन अमाउंट निकालने की इजाजत दे देता है और आपके अकाउंट से लिंक अमाउंट का टैग हटा देता है।

इसके अलावा यदि आप अपने सभी लोन और EMI का भुगतान कर देते है, तो अपने आप ही आपके खाते से लीन अमाउंट हटा दिया जाएगा।  

Lien Amount Kya Hota Hai (FAQ)

1. लीन अमाउंट का मतलब क्या होता है?

लीन अमाउंट का मतलब है ऐसा अमाउंट जो बैंक द्वारा ग्रहण कर लिया गया हो और उसे निकाला ना जा सके।

2. बैंक ऑफ इंडिया में ग्रहण अधिकार राशि क्या है?

Bank of India अकाउंट में ग्रहण अधिकार राशि का मतलब होता है, कि आपके बैंक खाते में उपलब्ध राशि जिसे बैंक ने अपने अधिकार में ले लिया हो। 

3. बैंक खाते पर लगे लीन अमाउंट को कैसे हटाए? 

यदि आपके Bank Account में रोक लगा दी गई है, तो आपको सबसे पहले अपने सभी बकाया राशियों को चुकाना होगा और तब आप उस रोक को हटा सकते हैं। इसके अलावा आप अपने बैंक से उस रोक को हटाने के लिए Request भी कर सकते हैं।

4. मैं अपने बैंक खाते से ग्रहणाधिकार कैसे निकालूं?

अपने बैंक खाते से लीन अमाउंट निकालने का सबसे आसान तरीका यही है, कि आपने जो भी EMI ले रखा है| उसका जितना जल्दी हो सके खत्म कर दें| 

निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने जाना की Lien Amount Kya Hota Hai. उम्मीद है कि इस लेख के माध्यम से आपको Lien amount से संबंधित सभी जानकारियां मिल पाई होंगी। क्योंकि इस आर्टिकल में हमने लीन अमाउंट कैसे निकाले, लीन अमाउंट लगने का कारण, लीन अमाउंट कैसे चेक करें, Lien Amount Ko Kaise Hataye. आदि के बारे में बताया हुआ है| यदि आपको लीन अमाउंट से संबंधित कोई अन्य जानकारियों की आवश्यकता है, तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।

एटीएम कार्ड एक्सपायर होने पर क्या करें
बजाज सुपर कार्ड का पिन कैसे बनाएं
बैंक ऑफ बड़ौदा का एटीएम फॉर्म कैसे भरें
एसबीआई (SBI) एटीएम कार्ड अनब्लॉक कैसे करें

1 thought on “लीन अमाउंट क्या होता हैं?I Lien Amount Check कैसे करें?और कैसे हटाएं”

Leave a Comment